गंजेपन का रामबाण इलाज 100% नेचुरल

गंजापन का 100 % घरेलु उपाय

दोस्तों , आप सबका स्वागत है , जैसा मैंने अपने पिछले पोस्ट में बताया था आज मैं ऐसे विषय पर बात करूँगा जिसकी वजह से जनजीवन पूरी तरह से प्रभावित है।  वो समस्या एक ऐसी समस्या है जिसकी वजह से लोग अपने काम में ध्यान नहीं लगा पाते हैं , चाहे वो किसी समारोह में जाने की बात हो, किसी पार्टी में जाने की बात हो या फिर अपने ही ऑफिस में colleagues के बीच बैठने की बात हो , बहुत ही शर्मशार होना पड़ता है।  हमेशा मन में तरह तरह के सवाल उठते हैं।

जी हाँ , वो समस्या है हमारे बालों की समस्या जैसे बालों का कमजोर होना , टूटना और आखिर में गिर जाना।  सही भाषा में कहा जाये तो खोपड़ी का पूरी तरह गांजा हो जाना , जो हमारे लिए आज के व्यस्त समय में बहुत शर्मशार होने वाली बात होती है जब हम अपने मित्रों में बीच बैठे होते है।









बाल गिरने के ये सब कारण हो सकते हैं -

स्ट्रेस का होना
असमय भोजन करना
शरीर में पानी की कमी
शरीर में आयरन, विटामिन्स और प्रोटीन्स की कमी होना
शरीर में खून की कमी होना
शरीर में कैल्सियम की कमी होना
रक्त संचार का धीमा हो जाना
ज्यादा शराब पीना या धूम्रपान करना     
बहुत ज्यादा नशे करना
सही मात्रा में भोजन न करना
जंक और फ़ास्ट फ़ूड का ज्यादा सेवन करना
बार बार डाई करवाना
ब्लीच करवाना
बालों के लिए केमिकल ट्रीटमेंट लेना
हर रोज स्टाइलिश हेयर करना

ये सब मुख्य कारण हो सकते है जिससे हमारे बालों की ग्रोथ बंद हो जाती है और धीरे धीरे बालों का पतला होना , बालों में रूसी होना और झड़ना ये सब समस्या उत्पन्न हो जाती है।

जवानी में बालों की समस्या होना -

आज के यंग लड़के या लड़कियां टेंशन या डिप्रेशन में आ जाते है जिसका और भी बुरा प्रभाव बालों पर पड़ना शुरू हो जाता है। ऐसे में वो तरह तरह के केमिकल ट्रीटमेंट्स लेना शुरू कर देते हैं और बालों को नैचुरली तरीके से ट्रीटमेंट करवाने की बजाय मार्किट में उपलब्ध केमिकल्स वाले शैम्पू , कंडीशनर या कैप्सूल्स का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं जिन सबका उनके बालों पे इतना बुरा प्रभाव पड़ता है क हम सोच भी नहीं सकते और धीरे धीरे सिर पूरी तरह गांजा हो जाता है।


ज्यादा दवाइयों का सेवन -







कई लोग अलग अलग तरह की बीमारियों के शिकार हो जाते हैं जैसे - हार्ट की प्रॉब्लम होना, डिप्रेशन का होना , तेज़ रक्त संचार , शुगर की प्रॉब्लम होना या कोई भी शारीरिक समस्या का होना जिसमे उन्हें बहुत सी अंग्रेजी दवाओं का सेवन करना पड़ता है।  ऐसे में लगातार कई साल या कई महीनो तक अंग्रेजी दवाओं के सेवन का प्रभाव भी हमारे बालों पर पड़ता है , जिससे बाल कमजोर हो जाते हैं और टूटना शुरू हो जाते हैं।

महिलाओं के बाल गिरने के कारण -

शरीर में आयरन की कमी होना
उम्र का बढ़ना भी एक कारण हो सकता है
ज्यादा स्टाइलिश हेयर्स करवाना
वजन घटाना , ये सब मुख्य कारण हो सकते है।

बच्चों के बाल टूटने के कारण 

बड़ों के साथ साथ ये समस्या बच्चों में भी देखी या पायी गयी है , 3 महीने से लेकर 12 साल की उम्र तक बच्चों में बालों की ग्रोथ की समस्या हो सकती है जिसका सबसे मुख्य कारण जनम से 1 साल तक माँ का दूध प्रयाप्त मात्रा में बच्चों को न मिलना।  इसके अलावा आयरन और जिंक जैसे पोषक तत्वों की शरीर में कमी होना भी एक मुख्य कारण होता है। अगर बच्चों में ये सब कारण हैं तो बच्चे की माँ को 1 साल तक अपना दूध और जिंक और आयरन युक्त आहार का सेवन करवाने की सलाह दी जाती है जिससे बच्चों के बालों की ग्रोथ अच्छे से हो सके।

जेनेटिक बालों का गिरना - 

यह समस्या आम पायी जाती है जो जेनेटिक कारणों की वजह से होती है।  यह अक्सर देखा गया है के कुछ लोगों के बाल गिरना पारिवारिक होता है , पहले घर के बड़े दादा को ये प्रॉब्लम थी, फिर फादर को और फिर बच्चों को भी इस समस्या से गुजरना पड़ता है।  ऐसे में अंग्रेजी दवाओं के इस्तेमाल से खुद को बचाना होता है और प्राकृतिक उपायों से बालों के गिरने की समस्या को रोकने का प्रयास करना फायदेमंद होता है।

एलोपेशिया -




ये समस्या बहुत खतरनाक होती है जो एक दूसरे से फैलती है जैसे किसी एलोपेशिया मरीज का तौलिया इस्तेमाल करना या फिर सरल शब्दों में कहा जाये तो ये समस्या पर्यावरणीय होती है।  इससे बचने के लिए हमे मुख्य तोर पर दूसरों के तोलिये के इस्तेमाल से बचना चाहिए खासकर जब हम घर से कहीं बहार जाते हैं या फिर विदेश में , किसी होटल्स में क्यूंकि होटल्स में हर तरह के लोग आते है जिसको एलोपेशिया की समस्या हो सकती है।


कुछ महत्वपूर्ण उपाय -

गीले बालों में कंघी न करें
सरसों या बादाम के तेल की हलके हाथों से मसाज करें
समय से भोजन करें
प्रयाप्त मात्रा में आयरन , प्रोटीन्स और जिंक युक्त भोजन करें
पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं ( कम से कम 3 लीटर एक दिन में )
नियमित रूप से मुल्तानी मिटटी या बेसन से धोएं
एक सप्ताह में 3 बार बालों की मालिश करें
दूध का सेवन नियमित रूप से करें
विटामिन A ,B और E से प्रयाप्त भोजन का सेवन करें
केला , अंगूर , मोसम्मी , संतरा खट्टे फलों का सेवन करें , जिससे कैल्शियम की कमी न रहे शरीर में
साल में 1 या 2  बार बालों को उस्तरे से उतरवाएं , जिससे कमजोर बालों की अच्छी ग्रोथ हो सके 





100 % घरेलु और रामबाण उपचार -

मे आपको आज ऐसे घरेलु उपचार के बारे में बताऊंगा जो बालों की हर प्रकार की समस्या से जड़ से ठीक करेगा और बालों को घना , मोटा और लम्बा कर देगा।

उपचार 1 - जो आपको रात को सोने से पहले इस्तेमाल करना है , इसका प्रयोग करने से पहले बालों को छोटा छोटा करवा ले ताकि नुस्खे का असर 100 % हो सके।
आधा चम्मच मेथी दाना और आधा चम्मच कलौंजी को पीसकर बारीक पाउडर बना ले और 10 चम्मच पानी में भिगो कर 15 मिनट्स के लिए रख दें।  15  मिनट्स के बाद उसको अच्छे से मिक्स करना है और अपने बालों में अप्लाई करना है , सुबह नार्मल पानी से धो सकते है।नहाने के बाद हलके हाथों से मालिश रोज करें ये प्रयोग आपको 1 महीना लगातार करना है और फिर10 दिन के अंतराल के बाद फिर से शुरू कर देना है, इस नुस्खे का प्रयोग आप 1 साल तक लगातार कर सकते हैं जैसे बताया गया है ठीक उसी प्रकार।

उपचार 2 - नहाने के बाद जिस तेल की मालिश करनी है वो आपको में घर पर ही बनाना बताऊंगा जो इतना ज्यादा कारगर और फायदेमंद है जिसके इस्तेमाल से आपको बालों की हर तरह की समस्या से छुटकारा मिल जायेगा।

तेल बनाने के लिए आपको सामान चाहिए -

1. 500 ग्राम शुद्ध सरसों का तेल , इसमें आपको घर का निकाला हुआ तेल ही लेना है , मार्किट वाला नहीं।
2. 50 ग्राम मेथी दाना
3. 20 ग्राम करी पत्ता
4.100 ग्राम भृंगराज के ताजे पत्ते
5. 250 ग्राम ताजा आंवला (गुठली निकाल लेनी है )











दोस्तों , अब आपको ये तेल बनाना कैसे है वो में आपको बता रहा हूँ-

मेथी दाना , करी पत्ता , भृंगराज और ताजे आंवले इन सबको अच्छी प्रकार मिक्सी में पीसना है, जब अच्छे से पीस जाये फिर उस पीसे हुए पेस्ट में सरसों का तेल डालके फिर सबको एक साथ पीसना है। एक लोहे की कड़ाही लेनी है और उसमे वो सारा पेस्ट डाल ले और हलकी आंच पर रख दें , उसको लगातार पलटे की सहायता से चलाते रहना है और जब वो अच्छे से ब्राउन (भूरा) रंग का हो जाये तो गेस से उतार कर ठंडा होने का लिए रख दे।  ठंडा होने पर एक सूती कपडा लेके वो सारा भुना हुआ पेस्ट सूती कपडे में रख के हाथों से दबाते हुए सारा तेल निकाल ले और तेल को एक कांच की शीशी में भर में रख लें , बस आपका तेल तैयार है।

इस तेल की मालिश हर रोज हलके हाथों से सुबह स्नान करने के बाद अपने सिर में करनी है।

सावधानियां - इन दोनों घरेलु उपचारों के प्रयोग के दौरान किसी भी तरह के शैम्पू , साबुन या कंडीशनर का इस्तेमाल नहीं करना है।

अगर आप लगातार 1 महीने तक इसका प्रयोग करते हैं तो बालों की हर प्रकार की समस्या से छुटकारा आपको सदा के लिए मिल जायेगा , किसी डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी और आपके बाल खिलखिला उठेंगे , आपके जीवन में खुशियां लौट आएंगी और हर कष्ट आपसे दूर भाग जायेगा। 

ये तेल अभी तक हजारों लोगो पे इस्तेमाल किया जा चुका है जिसके बेहतर परिणाम देखने को मिले हैं , अतः आप जिस को भी बालों की कोई भी समस्या हो इस तेल और नुस्खे का नियमित प्रयोग करें और 100 % लाभ पाएं। 

दोस्तों अगर आपको ये पोस्ट अच्छा या कारगर लगे तो इसे जनहित में जरूर शेयर करें ताकि सब लोग इसका लाभ उठा सकें। इस तेल का उपयोग हर कोई कर सकता है इसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है ये बिलकुल नेचुरल है और आजमाया हुआ है। 


धनयवाद।


Post a Comment

Pls do not enter any spam link in the comment box.